किसानों को समय पर गुणवत्तायुक्त कृषि आदान उपलब्ध कराएं-मंत्री डॉ. चौधरी

पन्ना | प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी की अध्यक्षता में स्थानीय जिला पंचायत सभाकक्ष में जिला योजना समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में विभिन्न विभागों में संचालित योजनाओं एवं निर्माण कार्यो की समीक्षा की गयी। समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी मांग के अनुसार गुणवत्तायुक्त कृषि आदान उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने निर्माण कार्य करा रहे विभागों को निर्देशित किया कि जो भी निर्माण कार्य जिले में चल रहे हैं उन्हें पूरी गुणवत्ता के साथ समय पर पूर्ण कर लिया जाए। 
    बैठक के प्रथम चरण में 6 फरवरी 2019 को सम्पन्न हुई बैठक में लिए गए निर्णयों के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा की गयी। प्रतिवेदन पर चर्चा के उपरांत मंत्री डॉ. चौधरी ने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि जिले के सभी अधिकारी ईमानदारी और लगन के साथ कार्य करें। 
    बैठक में निर्माण कार्यो की समीक्षा की गयी जिसमें लोक निर्माण विभाग के स्वीकृत 34 कार्यो में से 16 कार्य पूर्ण हो चुके हैं एवं 18 कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार पीआईयू के स्वीकृत 95 कार्यो में से 62 कार्य पूर्ण हो चुके हैं 18 कार्य प्रगति पर है। शेष 15 कार्य अभी प्रारंभ नही हुए हैं। प्रारंभ न होने का कारण जानने के उपरांत उन्होंने तत्काल निविदा आमंत्रित कर कार्यो को प्रारंभ कराने के निर्देश दिए। कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने बताया कि किसानों को गुणवत्तायुक्त और समय पर कृषि आदान उपलब्ध हो इसके लिए जिले में कार्यवाही प्रारंभ है। जिले की कृषि आदान बेंचने वाली दुकानों पर राजस्व और कृषि विभाग के अधिकारियों के दल गठित कर छापामार कार्यवाही की गयी है। अब तक 73 खाद-बीज के नमूने लिए गए हैं। इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं कि गुणवत्ताहीन खाद-बीज का विक्रय जिले में विक्रय के लिए पूरी तरह प्रतिबंधित किया जाए। किसानों को समय पर खाद-बीज मिल सके इसके लिए अभी से सहकारी समितियों में खाद-बीज का भण्डारण करने के साथ पर्याप्त मात्रा में खाद-बीज को डबल लॉक में भी रखा गया है। इस दौरान समिति की सदस्य श्रीमती ममता शर्मा द्वारा 90 दिन में आने वाली धान की फसल का बीज उपलब्ध कराने की बात कही गयी। कलेक्टर श्री शर्मा ने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि गुणवत्तायुक्त जल्दी फसल आने वाले बीज किसानों को उपलब्ध कराया जाए। समिति के सदस्य श्री मानवेन्द्र सिंह द्वारा किसानों की बुवाई का सही ढंग से सर्वे कराने के लिए जनप्रतिनिधियों के समक्ष गिरदावरी कराई जाए। इस संबंध में मंत्री डॉ. चौधरी द्वारा राजस्व अमले को निर्देशित करने के लिए कहा। इस संबंध में कलेक्टर द्वारा आगामी गिरदावरी आधुनिक तकनीक से किए जाने की बात कही। जिससे गिरदावरी में किसी भी तरह की खामी नही रहेगी। 
    बैठक में खाद एवं नागरिक आपूर्ति की समीक्षा की गयी। इस दौरान कलेक्टर श्री शर्मा ने बताया कि जिले में खाद्यान्न उठाव के बाद महीने की 01 तारीख से 20 तारीख तक शत प्रतिशत वितरण की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि बीपीएल से पात्र बीपीएल राशन कार्डधारियों की पर्ची न जारी होने एवं राशन कार्ड बनने में विलम्ब होता है इसलिए हितग्राहियों को सलाह दी गयी है कि वे लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से राशन कार्ड बनवाएं जिससे निर्धारित अवधि में राशन कार्ड बन सकें। उन्होंने यह भी बताया कि आगामी ग्राम सभा में बीपीएल सूची का वाचन कराकर सत्यापन कराया जाना प्रस्तावित है। जिससे पात्र बीपीएल हितग्राही सूची में रहे और उन्हें समय समय पर लाभ मिलता रहे। कलेक्टर श्री शर्मा द्वारा बैठक में बताया गया कि जिले के पहुंच विहीन क्षेत्रों में तीन माह के लिए सार्वजनिक वितरण प्रणाली की सामग्री का भण्डारण कर लिया गया है। जिससे बरसात के दिनों में लोगों को किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पडे। 
    शिक्षा विभाग में संचालित योजनाओं की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री शर्मा द्वारा जिले में चल रहे निर्माण कार्यो एवं विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गयी। इस अवसर पर समिति के सदस्य श्री माघवेन्द्र सिंह द्वारा प्रस्ताव रखा गया कि जिले की शासकीय स्कूलों की भूमि पर लोगों द्वारा अतिक्रमण कर लिया गया है अतः स्कूलों की भूमि का सीमांकन कराकर अतिक्रमण हटाया जाए। इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से अनुमोदित किया गया। इसके अलावा जो विद्यालय भवन बनकर तैयार हो गए हैं उनका निरीक्षण कराकर विभाग को सौंप दिया जाए। वहीं शासकीय छत्रसाल महाविद्यालय में अध्ययनरत अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की छात्राओं के लिए एक नये छात्रावास बनाए जाने की बात कही गयी। वर्तमान में उपलब्ध छात्रावासों में सीटें कम होने के कारण छात्राओं को असुविधा का सामना करना पडता है। अध्यक्ष श्री चौधरी द्वारा इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा शासकीय हाईस्कूल बरशोभा का नाम स्कूल के लिए भूमि दान करने वाले व्यक्ति श्री मोतीलाल चनपुरिया के नाम से नामकरण करने का प्रस्ताव रखा गया। जिस पर सदस्यों द्वारा अनुमोदन किया गया। अध्यक्ष की अनुमति से समिति के सदस्य श्री माघवेन्द्र सिंह द्वारा बताया गया कि जल संसाधन विभाग द्वारा बांधों और नहरों की राशि निकाल ली गयी है और निर्माण कार्य नही कराया जा रहा है। इस पर बैठक की अध्यक्षता कर रहे मंत्री डॉ. चौधरी ने विस्तारपूर्वक जानकारी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। सम्पन्न हुई बैठक में निर्वाचित सदस्यों में गुनौर विधायक श्री शिवदयाल बागरी, श्री माघवेन्द्र सिंह, श्रीमती ममता शर्मा, श्रीमती गिरजा बाई, श्री स्वामी प्रसाद मिश्रा, श्री अश्वनी भटनागर के साथ मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं सभी विभागों के जिला प्रमुख उपस्थित रहे।