Contact Information

शैक्षणिक संस्थाओं के विरूद्ध नोटिस 

ग्वालियर। कलेक्टर अनुराग चौधरी द्वारा मुख्य कार्यपालन अधिकारी साडा वी.के. शर्मा को उन शैक्षणिक संस्थाओं के विरूद्ध नोटिस देकर कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। जिनके द्वारा साडा की आवंटित भूमि पर भवनों का निर्माण नही किया गया है। साडा द्वारा 20 संस्थाओं को भू-खण्डों का 2003 से 2014 के मध्य किया गया था। इन संस्थाओं में से मात्र 5 संस्थाओं द्वारा भवन का निर्माण कर शैक्षणिक कार्य किया जा रहा है। शेष 15 संस्थाओं द्वारा अभी तक भवन निर्माण कर शैक्षणिक गतिविधियां प्रारम्भ नही की गई है जिन्हें नोटिस देने की कार्यवाही की जा रही है। 
कलेक्टर श्री चौधरी के निर्देश पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा इसमें से 15 ऐसी संस्थाओं को नोटिस दिया गया है। जिन्होने अभी तक कार्य प्रारम्भ नहीं किया है। एमिटी एज्यूकेशन दिल्ली, चाईल्ड एज्यूकेशन सोसायटी दिल्ली, गीता एज्यूकेशन दिल्ली, इन्डूकॉम इन्फ्रास्ट्रक्चर गुडगांव, राज विद्या केन्द्र दिल्ली, रॉयल बु्रकलेन एज्यूकेशन एण्ड  कल्चरल सोसायटी दिल्ली, एम.आर. एग्रोटेक दिल्ली, प्रासेसिव फाउण्डेशन कोटा, व्यक्तित्व विकास संस्थान ग्वालियर, सेन्ट जेवियर एज्यूकेशन दिल्ली, एल्गोरिथम इन्फ्रासोफट दिल्ली, विद्या लक्ष्मी महिला मण्डल ग्वालियर, प्रमोद राठी मुरैना, भारतीय विद्या भवन केन्द्र ग्वालियर, रईस अहमद ग्वालियर सभी शैक्षणिक संस्थाओं के विरूद्ध नोटिस देकर कार्यवाही करने के निर्देश ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने दिये। 
इन संस्थाओ ने भवन निर्माण कर किया शैक्षणिक कार्य प्रारम्भ
साडा क्षेत्र में शैक्षणिक गतिविधियों के लिये आवंटित भूमि पर उक्त पांच संस्थाओं द्वारा भवन निर्माण कर शैक्षणिक कार्य किया जा रहा है। जिसमें ये संस्थायें डिवाईन इन्टरनेशनल दिल्ली, सारथी इंफ्रास्ट्रक्चर दिल्ली, माताजी शिक्षा एवं समाज कल्याण समिति ग्वालियर, न्यू कमला शिक्षा प्रसार एवं समाज कल्याण समिति ग्वालियर, खालसा मायनोरिटी सोसायटी ग्वालियर शामिल हैं।