Contact Information

दुरंतो एक्सप्रेस में आठ लाख की चोरी

ग्वालियर। ट्रेनों में शातिर चोर रोजाना ही वारदातों को अंजाम देकर जीआरपी व आरपीएफ की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल रहे हैं। दुरंतों एक्सप्रेस के एसी कोच में घुसे चोर यात्री का डायमंड व सोने के जेवरात सहित अन्य माल पर हाथ साफ कर गए। चोरों ने अपने हाथ का कमाल ग्वालियर स्टेशन आने से पहले दिखाया। ग्वालियर में यात्री की एफआईआर नहीं लिखे जाने के कारण पीडि़त ने निजामुद्दीन पहुंचकर एफआईआर दर्ज कराई। निजामुद्दीन से ग्वालियर केस डायरी पहुंचने के बाद जीआरपी ने शातिर चोरों की तलाश शुरू कर दी। चोरी गए माल की कुल कीमत पीडि़त यात्री ने लगभग आठ लाख बताई है।
दिल्ली के मयूर विहार कालोनी निवासी इकबाल कालरा उम्र तीस साल पेशे से डायमंड व जेवरात कारोबारी है। इकबाल दुरंतो एक्सप्रेस के एसी कोच ए-वन में भोपाल से निजामुद्दीन जाने के लिये सवार हुए थे, सफर के दौरान उनको नींद जा लगी, तभी ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने से पहले कोच में पहुंचे शातिर चोरों ने इकबाल को सोता देक उनकी बर्थ पर रखा छोटा बैग जिसमें छह लाख रुपए के डायमंड व दो लाख रुपए के सोने के जेवरात रखे थे, मौका पाकर ग्वालियर स्टेशन से पहले चेन पुलिंग कर चोरी की वारदात को अंजाम देकर भाग निकले। चोरी का पता इकबाल को ट्रेन के ग्वालियर पहुंचने पर लगा।
इकबाल ने ट्रेनों में हो रही वारदातों से बचने के लिये डायमंड व सोने के आभूषण अपनी सेविंग किट में रखे थे। लेकिन चोर उसका बड़े बैग की चेन को खोलकर ये सेविंग किट ही चोरी कर ले गए।