खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य के उपार्जन हेतु पंजीयन जारी

ग्वालियर। खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 समर्थन मूल्य पर धान एवं मोटे अनाज ज्वार एवं बाजरा के उपार्जन हेतु किसान पंजीयन जारी है। पंजीयन की अंतिम तिथि 16 अक्टूबर तक निर्धारित है।
प्रदेश में उपार्जन योजना के अन्तर्गत खरीफ मौसम में समर्थन मूल्य धान एवं मोटे अनाज की खरीदी की जाती है। जिले में कृषकों का पंजीकारण किया जा रहा है। शासन द्वारा वर्ष 2019-20 के लिए धान कामन 1815 रूपये, धान ग्रेड ए 1835 रूपयें एवं ज्वार 2550 रूपये तथा बाजरा 2000 रूपये प्रति क्विटंल रूपये समर्थन मूल्य निर्धारित किया है। उन्होंने बताया किसान पंजीयन की अंतिम तिथि 16 अक्टूबर 2019 निर्धारित की गई हे। किसानों का पंजीयन उपार्जन केन्द्र में प्रात: 8 बजे से शाम 8 बजे तक शासकीय कार्यों दिवसों में किया जाएगा।  कृषकों अधिक सशक्त करने के लिए भू स्वामियों को निम्नलिखित को एम.पी. किसान एप, ई-उपार्जन मोबाईल एप, पॉब्लिक डोमेन में ई-उपार्जन पोर्टल पर तथा विगत वर्ष खरीफ उपार्जन पंजीयन किया जा सकता है। 
उपार्जन केन्द्रो पर किसान पंजीयन के लिए आधार कार्ड की प्रति, बैंक पासबुक की प्रति, सम्रग आईडी की प्रति, वनाधिकार पट्टाधारी की प्रति, किसानों सिकमीदार अनुबंध तथा किसान पंजीयन पर्ची का हस्ताक्षरित प्रिट आउट उपार्जन केन्द्रों पर विक्रय के समय लाना होगा। जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि भुगतान जे.आई. टी के माध्यम से किया जाएगा।  इस कारण किसान पंजीयन में केवल राष्ट्रीयकृत एवं जिला सहकारी बैंक के एकल खातें ही मान्य होगें। पंजीयन में आने वाले कठिनाई के लिए ग्राम स्तर पर ग्राम पंचायत एवं कोटवार के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार कराया गया है। ग्राम में ड़ोडी पिटवाकर ग्राम पंचायत के पंजीयन सूचना पटल प्रदर्शित की जायेगी। व्यवस्थित पंजीयन हेतु सभी पंजीयन केन्द्रो पर प्रशिक्षण एवं उन्मुखीकरण किया गया है।