Contact Information

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने कंट्रोल रूम में राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की बैठक ली 

ग्वालियर। शहर में शांति और सदभाव का माहौल बना रहे और कानून व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त रहे। इसके लिए राजस्व एवं पुलिस के अधिकारी संयुक्त रूप से नियमित भ्रमण करें। असामाजिक तत्वों तथा शहर की शांति व्यवस्था में विघ्न डालने वालों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई हो यह सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर अनुराग चौधरी एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने मंगलवार को पुलिस कंट्रोल रूम में राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में यह निर्देश दिए हैं। 
राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, एडीएम किशोर कान्याल, एडीएम रिंकेश वैश्य, एडीएम टी एन सिंह, एडिशनल एसपी तोमर सहित राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। 
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सम्पूर्ण जिले में शांति और सदभाव का माहौल बना रहे और कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर बनी रहे, इसके लिए संयुक्त रूप से भ्रमण आवश्यक है। किसी भी स्थान पर कोई असामाजिक गतिविधि नजर आती है तो उसके विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। ऐसे व्यक्ति जो कानून व्यवस्था को बिगाड़ सकते हैं उनको समय रहते बाउण्डओवर करने की कार्रवाई भी की जाए। 
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कहा कि अयोध्या प्रकरण को लेकर संविधान पीठ का निर्णय भी निकट भविष्य मंए संभावित है। इसके दृष्टिगत भी शहर की कानून व्यवस्था और शांति का माहौल बना रहे, इसके लिए सचेत रहकर अपने दायित्वों का निर्वहन करना आवश्यक है। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि सोशल मीडिया पर भी आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जाए। किसी भी व्यक्ति को शहर की कानून व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने का अधिकार नहीं है। ऐसा करने वालों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। 
कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को यह भी निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में शांति समितियों की बैठक का आयोजन भी करें और सभी सदस्यों को भी शहर की शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करने की अपील करें। इसके साथ ही जिले में जिन स्थानों पर भी पूर्व में घटनाएं घटित हुई हैं, उन स्थानों पर विशेष निगरानी रखी जाए। पुलिस बल फ्लैग मार्च भी निकाले। सभी राजस्व अधिकारी अपनी-अपनी गाडिय़ों में वायरलेस सेट भी अवश्य स्थापित कराएं। जिले में धारा-144 के आदेश भी जारी किए जा रहे हैं। धारा-144 के दौरान किसी भी प्रकार के जुलूस एवं धरना प्रदर्शन प्रतिबंधित रहेंगे। 
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन से यह भी कहा है कि शहर में बिना अनुमति के लगे होर्डिंग बैनर भी तत्परता से हटाने की कार्रवाई की जाए। शहर में कहीं भी बिना अनुमति के कोई भी बैनर-पोस्टर न लगें, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही शहर की सडक़ों पर लावारिस तथा कंडम खड़े वाहनों को भी हटाने की कार्रवाई की जाए। 
पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने पुलिस अधिकारियों से कहा है कि वे अपने-अपने थाना क्षेत्र में डायल 100, एफआरव्ही में 4 हथियारबंद जवानों की तैनाती मय राइट ड्रिल उपकरणों के साथ सुनिश्चित करें। इसके साथ ही थाना प्रभारी यह भी सुनिश्चित करें कि स्टाफ की बदली तब तक न की जाए जब तक अगली शिफ्ट का स्टाफ न आ जाए। उन्होंने सभी थाना प्रभारियों को भी निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में नियमित भ्रमण करें। किसी भी स्थिति में कोई असामाजिक तत्व शहर की फिजा को खराब न कर पाए।