Contact Information

मां अम्बे खेल संस्थान ने स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान किया 

ग्वालियर। मां अंबे महिला आत्मरक्षा खेल संस्थान के द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान किया गया विजय दिवस के उपलक्ष में शासकीय झलकारी बाई विद्यालय में आयोजन स्वतंत्रता सेनानी का सम्मान किया गया। विजय दिवस 16 दिसबर को 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत के कारण मनाया जाता है।
इस युद्ध के अंत के बाद 93,000 पाकिस्तानी सेना ने आत्मसमर्पण कर दिया था। साल 1971 के युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को करारी शिकस्त दी, जिसके बाद पूर्वी पाकिस्तान आजाद हो गया, जो आज बांग्लादेश के नाम से जाना जाता है। यह युद्ध भारत के लिए ऐतिहासिक और हर देशवासी के दिल में उमंग पैदा करने वाला साबित हुआ।
देश भर में 16 दिसबर को विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। वर्ष 1971 के युद्ध में करीब 3900 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे, जबकि 9851 घायल हो गए थे। पूर्वी पाकिस्तान में पाकिस्तानी बलों के कमांडर लेटिनेंट जनरल ए.ए. के नियाजी ने भारत के पूर्वी सैन्य कमांडर लेटिनेंट जनरल जगजीत सिंह अरोड़ा के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया था, जिसके बाद 17 दिसबर को 93,000 पाकिस्तानी सैनिकों को युद्धबंदी बनाया गया। कार्यक्रम प्रभारी अनुभा सिंह, प्राचार्य बेजल सर, स्वतंत्रता सेनानी राम अवतार सिंह तोमर, संस्था के सचिव सूरज सिंह राठौर की उपस्थिति में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।