Contact Information

रंगमहल में आग लगने से बिना फेरे वर-वधु लौटे 

ग्वालियर। रंगमहल गार्डन में विवाह समारोह के दौरान आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। आग लगने की खबर मिलते ही एक के बाद एक कई दमकल वाहन मौके पर पहुंच गए और आग पर काबू पाने के लिए मशक्कत करने में जुट गए। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। विवाह समारोह में शामिल मेहमान गार्डन से बाहर आ गए तो दूल्हा-दुल्हन बिना फेरे के वापस हो गए। शादी की सभी रस्में एक होटल में की गईं। आग लगने से लाखों रुपए का नुकसान होना बताया गया है। आग कैसे लगी इसे लेकर अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। दमकल अधिकारियों का कहना है कि अगर समय रहते आग पर काबू नहीं पाते तो बड़ा हादसा हो जाता, क्योंकि इसी से लगे संगम गार्डन में भी विवाह समारोह चल रहा था।
12 बजे के करीब रंगमहल गार्डन में विवाह समारोह आयोजित हो रहा था तभी स्टोर रूम से आग की तेज लपटें उठने लगीं। आग की लपटें उठते देख शादी समारोह में शामिल लोगों में भगदड़ मच गई। आग लगने की खबर मिलने के बाद बाल भवन स्थित फायर ब्रिगेड दफ्तर से तीन गाडिय़ां मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पाने में जुट गईं, लेकिन स्टोर रूम में कपड़ा, थर्माकॉल और सजावट का सामान रखा होने के कारण आग देखते ही देखते बढ़ती चली गई और आसपास के स्टोर रूम को भी अपनी चपेट में ले लिया। आग पर काबू पाने के लिए दमकलकर्मियों ने अच्छी खासी मशक्कत करते हुए फोम का इस्तेमाल किया लेकिन आग पर काबू पाना मुश्किल हो गया। आग लगने की सूचना मिलने के बाद फायर ऑफिसर उमंग प्रधान, सहायक फायर ऑफिसर देवेद्र जखेनिया भी मौके पर पहुंचे और आग पर नियंत्रण करने में जुट गए। रंगमहल गार्डन के स्टोर रूम में लगी आग पर काबू पाने में दमकलकर्मियों को लगभग 20 गाड़ी पानी फायर करना पड़ा और 3 घंटे की मशक्कत के बाद काबू पाया गया। आग लगने से लाखों का नुकसान हुआ है। दमकल अधिकारियों का कहना है कि आग लगने के दौरान एक सिलेंडर भी फटा है जिसके कारण आग ने विकराल रूप लिया है। आग लगने से कितने का नुकसान हुआ है यह तो स्पष्ट नहीं हुआ है, लेकिन बताया गया है कि आग शॉर्ट सर्किट से लगी है जबकि रंगमहल गार्डन में डेकोरेशन का काम करने वाले नरेश खंडेलवाल का कहना है कि किसी लेबर ने बीड़ी, सिगरेट जली छोड़ दी है जिससे आग लगी है।
चल रहा था फोटो सेशन
रंगमहल गार्डन में वर्मा परिवार की शादी थी, स्टेज पर फोटो सेशन चल रहा था और इसके बाद फेरे की तैयारी होनी थी तभी अचानक आग की लपटें उठते ही विवाह समारोह में मौजूद मेहमान गार्डन से बाहर आ गए तो दूल्हा-दुल्हन और उनके परिजन भी अपना सामान समेटकर बाहर आ गए और निजी होटल में बाकी रस्में पूरी कीं।
अग्निशमन यंत्र से किया काबू
आग लगने के बाद विवाह समारोह में मौजूद मैरिज गार्डन संचालक और उनके कर्मचारियों ने आग पर काबू पाने के लिए अग्निशमन यंत्रों का उपयोग किया। गार्डन में एक दर्जन से ज्यादा अग्निशमन यंत्र रखे हुए थे, जैसे ही स्टोर रूम से आग की लपटें उठना शुरू हुई थी तो वहां मौजूद कर्मचारियों ने नियंत्रण करने के लिए अग्निशमन यंत्रों का उपयोग करना शुरू कर दिया लेकिन सिलेंडर फटने से आग बढ़ गई। 
 किराने की दुकान हुई खाक
किराने की दुकान में 1.10 बजे के करीब आग की लपटें उठने लगीं। आग शॉर्ट सर्किट से लगी इसकी जांच की जा रही है। घटना मुरार थाना क्षेत्र के त्यागी नगर की है। त्यागी नगर माता मंदिर के पास धर्र्मेश राठौर की किराने की दुकान में आग की लपटें उठ रही थीं तभी पड़ोस के एक युवक की नजर इस पर पड़ गई, उसने तुरंत ही पुलिस नियंत्रण कक्ष को इसकी खबर दी। आग लगने की खबर मिलने के बाद रंगमहल गार्डन में आग बुझा रही एक गाड़ी को मुरार रवाना कियागया। दमकलकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर आधी गाड़ी पानी फायर कर आग पर काबू पा लिया। धर्मेश का कहना है कि आग लगाई गई है जिसमें ढाई लाख का नुकसान हुआ है।